//मथुरा काशी पर क्या बोले हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता

मथुरा काशी पर क्या बोले हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता

अयोध्या विवाद के हल होने के बाद अब सुप्रीम कोर्ट में काशी-मथुरा विवाद को लेकर भी याचिकाओं का सिलसिला शुरू हो गया है. हिंदू पक्ष की याचिका के बाद अब मुस्लिम पक्ष भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. मुस्लिम संस्था जमीयत-उलेमा-ए-हिंद ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल करके हिंदू पु्जारियों की याचिका का विरोध किया है.

मुस्लिम पक्ष की याचिका में क्या ?
जमीयत-उलेमा-ए-हिंद की ओर से दाखिल की गई अर्जी में कहा गया है कि हिंदू पुजारियों की याचिका पर नोटिस न जारी किया जाए. मामले में नोटिस जारी करने से मुस्लिम समुदाय के लोगों के मन में अपने पूजा स्थलों के संबंध में भय पैदा होगा. याचिका में अयोध्या विवाद का संदर्भ देते हुए कहा गया है कि इसके अंत के बाद इस तरह की याचिका मुस्लिमों के मन में भय पैदा करेगी. जमीयत-उलेमा-ए-हिंद ने कहा है उसे मामले में पक्षकार बनाया जाए क्योंकि ये मामला राष्ट्र के धर्मनिरपेक्ष ताने-बाने को नष्ट करेगा.

हिंदू पुजारियों की याचिका में क्या ? 
सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में हिंदू पुजारियों के संगठन विश्व भद्र पुजारी पुरोहित महासंघ ने याचिका दाखिल करके पूजा स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम, 1991 (Place of Worship Special Provisions Act 1991) को चुनौती दी है. याचिका में काशी-मथुरा विवाद को लेकर कानूनी कार्रवाई को फिर से शुरू करने की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि इस एक्ट को कभी चुनौती नहीं दी गई और ना ही किसी कोर्ट ने न्यायिक तरीके से इस पर विचार किया.

https://www.youtube.com/watch?v=lnPQbTrZC-U

@zeenews.india.com